Life Styleछत्तीसगढ़ सरकारी योजनाएँ 2022

छत्तीसगढ़ में 2 से 12 अक्टूबर तक घर-घर जाकर कोविड-19 मरीजों की पहचान

कोविड-19:- जैसे की आप को पता है की विश्व के साथ भारत में भी कोरोना वायरस का प्रक्रोप कई महोनो से छाया हुआ इसके तहत अब    छत्तीसगढ़ में 2 अक्टूबर से 12 अक्टूबर तक कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान संचालित किया जाएगा। इसके तहत ग्रामीण और शहरी इलाकों में घर-घर जाकर कोविड-19 के लक्षणात्मक मरीजों की पहचान की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की अपर मुख्य सचिव श्रीमती रेणु जी. पिल्ले ने विस्तृत दिशा-निर्देश जारी करते हुए अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए सभी कलेक्टरों को अर्धशासकीय पत्र लिखा है।

किसानों के लिए अच्‍छी खबर पीएम किसान सम्‍मान निधि (PM-KISAN) के अतिरिक्त हर साल मिलेंगे 5000 रूपये

लक्षणात्मक मरीजों की त्वरित पहचान और कोरोना जांच

अपर मुख्य सचिव ने पत्र में कलेक्टरों से कहा है कि वर्तमान में पूरा विश्व कोरोना संक्रमण से प्रभावित है। छत्तीसगढ़ में भी विगत कुछ दिनों से कोरोना संक्रमण की दर में वृद्धि हुई है। इस वैश्विक महामारी पर नियंत्रण के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर लगातार कोशिश की जा रही है।

कोविड-19 संक्रमण के प्रसार की कड़ी को तोड़ने के लिए समुदाय स्तर पर लक्षणात्मक मरीजों की त्वरित पहचान और कोरोना जांच कर आइसोलेट एवं इलाज किया जाना जरूरी है।

छत्तीसगढ़ राशन कार्ड में मोबाइल नंबर कैसे जोड़े और पाएं राशन आबंटन की जानकारी

कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान हर जिले में ..

श्रीमती पिल्ले ने कलेक्टरों से कहा है कि कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान में जिले के सभी शहरी एवं ग्रामीण परिवारों तक पहुंचना सुनिश्चित करें। उन्होंने उम्मीद जताई कि कलेक्टरों के नेतृत्व एवं कुशल मार्गदर्शन में प्रदेश भर में इस अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन होगा।

Back to top button